Typing कैसे सीखे – Typing Tips in Hindi

दोस्तों इस बदलते दौर में हर किसी के पास computer या laptop होना बहुत जरूरी है, क्योंकि आज laptop और computer के बिना कोई भी कार्य करना असंभव है। 

ऐसे में लोगों को computer और typing के बारे में जानकारी होना बहुत जरूरी है। खासकर professional life में आगे बढ़ने और तरक्की हासिल करने के लिए computer का इस्तेमाल और typing आना बहुत जरूरी है।

यही कारण है, कि लोग internet पर typing कैसे सीखे और typing speed कैसे बढ़ाएं के बारे में तरीके ढूंढते हैं। ताकि उनकी typing speed improve हो सके और वह अच्छे तरीके से typing कर सके।

दोस्तों इसलिए आज हम इस लेख के जरिए आपको typing कैसे सीखे के बारे में बताने वाले है। यदि आप भी typing के बारे में जानना चाहते हैं, तो इस लेख को शुरू से अंत तक जरूर पढ़ें। 

Typing कैसे सीखे?

Typing कैसे सीखे

Typing सीखने के लिए कुछ बातों को ध्यान में रखना बहुत जरूरी है, जो आज हम इस लेख के ज़रिए आपको बताने वाले हैं। जी हाँ इन तरीकों को अपनाकर आप बिना keyboard में देखें सबसे बेहतर typing कर सकते हैं।

लेकिन ध्यान रहे, आपको नीचे बताए गए तरीकों को नियमित रूप से practice करना होगा। ताकी आपके हाथ की उंगलियां keyboard पर लिखे alphabet के location को अच्छी तरह से memories कर सकें।

Right sitting posture

Typing सीखने के लिए सबसे पहले जरूरी है, यह जानना कि आपको किस तरह बैठकर typing करना चाहिए। दोस्तों आपको बता दें, कि typing हमेशा सीधे बैठकर करनी चाहिए।

Typing - Right sitting posture
Right sitting posture

जी हाँ ध्यान रहे हमेशा typing करते समय आपनी पीठ सीधी और आपनी कोहनीयों को समकोण यानी right angle में मोड कर रखें तथा अपने सिर को थोड़ा आगे की ओर झुका कर यानी screen के सामने रखें।

दोस्तों typing करते समय अपनी आंखों को हमेशा screen के बीच कम से कम 45 से 70 सेंटीमीटर की दूरी पर रखना चाहिए तथा अपने कंधे, हाथ और कलाई की मांसपेशियों को जितना हो सके उतना free रखने की कोशिश करें।

अपने कलाई को keyboard पर कुछ इस तरह रखें की वह सामने tabletop को छू सकें। ऐसा करने से typing करने में आसानी होती है। इसके अलावा यह हमेशा ध्यान रखें कि अपने शरीर के वजन को कलाइयों पर टिका कर उन्हें कभी भी ना बदले।

Use all fingers 

दोस्तों typing करते समय हमेशा अपने दोनों हाथों के अंगूठे और उंगलियों का इस्तेमाल करना जरूरी है। ऐसा करने से उनकी typing speed भी increase होती है।

Typing - Use all fingers
Use all fingers

हालांकि बहुत से लोग ऐसे भी हैं, जो केवल अपने 2 या 3 उंगलियों के मदद से ही typing करते हैं और यही वजह है, कि उनकी typing speed slow होती है क्योंकि यह typing करने का सही तरीका नहीं होता।

इसलिए अपने हाथों को हल्का रखें और अपने 10 की 10 उंगलियों को flexible रखें ताकि keyboard पर typing करने के दौरान उंगलियों को आसानी से move किया जा सके।

Home position 

Typing करने के लिए keyboard पर उंगलियों को सही position में रखना बहुत जरूरी होता है और इसी position को home position कहा जाता है।

दोस्तों home position में typing करने के लिए हमेशा अपने बाएं हाथ की सबसे छोटी उंगली यानी little finger को alphabet ‘A’ पर रखना चाहिए। 

Little finger के बाद वाली उंगली यानी ring finger को हमेशा alphabet ‘S’ पर, middle finger को ‘D’ पर, index finger को ‘F’ पर तथा अंगूठे यानी thumb को space पर रखना चाहिए।

इसी तरह दाएं हाथ की सबसे छोटी उंगली यानी little finger को ‘: ;’ पर, ring finger को alphabet ‘L’ पर, middle finger को ‘K’ पर, index finger को ‘J’ पर तथा अंगूठे यानी thumb को space पर रखना चाहिए।

Typing करने के दौरान Home position में अपने हाथ रखने का सबसे बड़ा फायदा यह होता है, कि आपके हाथों की उंगलियां आसानी से keyboard पर मौजूद सभी keys को control कर सकती है।

साथ ही आपकी typing speed भी increase होगी और keyboard पर मौजूद सभी keys तक आपकी उंगलियां आसानी से पहुंच जाएगी। लेकिन ध्यान रखे कि type करते हुए यदि आप alphabet R या alphabet U type करते, हैं तो आपकी उंगलियों को alphabet F यानी Home position पर वापस आ जानी चाहिए।

Keywords scheme 

दोस्तों यदि आप नए-नए typing सीख रहे हैं, तो आपको color – coded keyboard का इस्तेमाल करना चाहिए, क्योंकि इस तरह का keyboard आप को यह समझने में मदद करेगा कि प्रत्येक keys पर कौन सी उंगली press करनी चाहिए।

ध्यान रहे केवल उन्हीं उंगलियों से keyboard के keys को press करें, जिनके लिए उन keys को reserve किया गया है और फिर वापस Home position यानी की ‘ASDF’ और ‘JKL;’ पर लौट आए।

दोस्तों type करते समय आपको keyboard पर मौजूद symbols के location की कल्पना करनी होगी और साथ ही type करते समय एक लय स्थापित करें और keystrokes को equal intervals पर press करें।

Shift key को press करने के लिए हमेशा छोटी उंगली यानी little finger का इस्तेमाल करना चाहिए और space bar को दबाने के लिए जो भी हाथ आपके लिए ज्यादा comfortable हो उसके अंगूठे यानी thumb का इस्तेमाल करना चाहिए।

दोस्तों यह process पहली बार करने में जरूर uncomfortable लगे। लेकिन रोजाना practice करने के बाद आप बहुत ही आसानी से type कर पाएंगे और साथ ही आपकी typing speed भी काफी improve हो जाएगी।

Remember all shortcuts 

दोस्तों ऊपर बताए गए कुछ महत्वपूर्ण तरीकों की मदद से आप typing सीख सकते हैं और साथ ही अपनी typing skills को improve भी कर सकते हैं।

लेकिन इसके साथ ही आपको keyboard के कुछ बेहतरीन shortcut keys भी याद होनी चाहिए, ताकी आप computer के कार्यों को बहुत ही आसानी से कर सकें। और इतना ही नहीं इन shortcut keys की मदद से आपको typing करने में भी काफी मदद मिलेगी।

दोस्तो typing करने के दौरान कुछ ऐसे shortcut keys होते हैं, जिन्हें हमेशा अपने दिमाग में रखना जरूरी होता है। जैसे कि- ctrl, shift, copy, past, delete, F1, edit, file इत्यादि। 

Conclusion

तो दोस्तों आज के इस लेख ‘typing किसे कहते हैं’ में हमने आपको typing सीखने के सबसे बेहतरीन तरीकों के बारे में बताया, ताकि आप भी बहुत अच्छे से typing कर सके और अपनी typing speed बढ़ा सकें।

इसी के साथ यदि आपको इस लेख से संबंधित कोई राय देनी है या कोई प्रश्न पूछने हैं, तो नीचे comment section में comment करके बता सकते हैं, क्योंकि आपकी राय हमारे लिए बहुत महत्वपूर्ण है।

यदि यह लेख आपको पसंद आया है, तो इसे अपने दोस्तों और social media पर जरूर share करें। ताकि ज्यादा से ज्यादा लोगों को typing किसे कहते हैं के बेहतरीन तरीकों के बारे में ज्ञान प्राप्त हो सके।

और भी पढ़ें :-


Share करें :
Asif Ansari

Hello! दोस्तो, मेरा नाम आसिफ अंसारी है, मैंने कंप्यूटर साइन्स के अंदर अपनी स्नातक की डिग्री पूरी की है। मुझे इंटरनेट, टेक्नॉलजी, कंप्यूटर के बारे में जानने की काफी ज्यादा दिलचस्पी रहती है यहाँ मैं इंटरनेट, ऑनलाइन पैसे कैसे कमायें, टेक्नोलॉजी, एजुकेशन और गेमिंग के बारे में अपनी Knowledge शेयर करता हूँ।

Leave a Comment

error: Content is protected !!!
5 Shares
Copy link